Hindi Sex Stories –

हे हेलो दोस्तों आप सब कैसे है उम्मीद है आप सब मस्त होंगे और Hindi Sex Stories का मज़ा ले रहे होंगे दोस्तों मैं नागपुर के पड़ोस में एक गांव है कुकुम्बरा मैं वहा का रहने वाला हूँ .

मेरा नाम लकी है और मेरी खास बात यह है की मुझे लड़कियों की चुदाई करना पसंद नहीं है अब तो आप सब समझ ही गए होंगे की मुझे लड़के पसंद है मैं एक GAY हूँ .

मुझे अपनी गांड में लड़को का रॉकेट लेना पसंद है मुझे गांड मरना और मरवाना दोनों पसंद है और आज की स्टोरी में मैं आप सब को बताऊंगा की कैसे मैंने अपनी gf के भाई की गांड मरी वैसे वो मेरा साला हुआ लेकिन मैंने उसकी गांड की भयानक चुदाई की .

क्युकी मैं समझ गया था की वो भी GAY है तो आज की कहानी दो GAY के सेक्स से भरी हुई है तो चालिये सुरु करते है दोस्तों बात उन दिनों की है जब मैंने महसूस किया की मुझे लड़कियों से जायदा लड़के पसंद है .

क्युकी कॉलेज में मैंने रूबी नाम की एक लड़की फसाई वह बहुत मस्त लड़की थी उसकी गांड अगर कोई लड़का देख ले तो मुठ मार देता था क्युकी रूबी हुस्न की रानी थी धीरे धीरे हमरी बात चीत सेक्स तक पहुंच गयी .

हमने सेक्स का प्लान किया अभी तक मुझे लगता नहीं था की मैं एक GAY हूँ लेकिन जायदा टाइम मैं स्टोरी पढ़ा करता था खैर हम दोनों रूम में पहुंचे और मैंने रूबी के लिप्स पर किश करने लगा .

उसके बूब्स दबाने लगा और रूबी मधुर मधुर आह आह आह आह उफ़ उफ़ की हलकी हलकी आवाज़े निकलने लगी मेरा लैंड भी खड़ा हो चूका था फिर मैंने रूबी को बेड पे पटक दिया और उसके कपडे निकल कर उसका सरीर चाटने लगा .

उसकी मखमली गांड उसकी मोती भरी भरी जंघे उसके गोल गोल टुंडी दार उठे हुए बूब्स मैं अभी तक उसके हुस्न में खो गया था मैंने उसकी इतनी चटाई की की रूबी आँख बंद कर के बस उफ़ उफ़ अहह आह आह आह खा जाओ मेरी कुवारी छूट को मेरे राजा उफ़ फाड़ दो अपने नागराज से इस ,मदारचोद की चूत.

चाट लो मेरी भरी हुई जवानी चाट लो मेरी जंघे मैं लगातार उसकी चूत चाटे जा रहा था और वह झड़ने पे आ गयी उफ़ उफ़ मैं अकड़ रही हूँ मुझे कुछ हो रहा है उफ़ अहह अहह चाटना बंद मत कर मेरी जान उफ़ मैं अकड़ रही हूँ .

और वह एकदम अकड़ गयी और उसकी चूत से झल से पानी निकला अब मैंने यह सोच रहा था की मैंने उसकी चूत क्यों नहीं मरी दरअसल मेरा मन ही नहीं हुआ रूबी बेदम पड़ी थी मनो उसके सरीर से सारा खून निचोड़ लिया गया हो .

फिर मैं रूबी से चिपक गया और मेरा मन उसकी गांड मारने का हुआ मैंने रूबी से बोला जान पलट जाओ मैं तुम्हारी गांड चाटना चाहता हूँ और वो पलट गयी दोस्तों गांड चाटने में एक लड़के को बहुत मज़ा आता है खास कर एक GAY लड़के को रूबी पटल तो गयी थी .

लेकिन उसको ये नहीं पता था की एक दम मैं उसकी गांड में मोटा लोहे का लंड डाल दूंगा अब मैं रूबी की गांड चाट रहा था और वो मनो जन्नत में थी बोल रही थी उफ़ मेरे राजा इतना मज़ा तो चूत चटवाने में भी नहीं आता जितना गांड चटवाने में आ रहा डाल दे अपनी पूरी जुबान मेरी गांड में .

छोड़ अपनी जुबान से उफ्फ्फ उफ़ आह आह मेरी चूत को भी मज़ा आ रहा है तू मेरी गांड चाट रहा है उससे मेरी चूत से पानी निकल रहा है क्या जादू है वह वह उफ़ उफ़ चाट मादरचोद चाट वह अपनी गांड उठा उठा कर गाड़ चटवा रही थी अब उसकी गांड चाटते चाटते मेरे लंड फुल मूड में आ चूका था .

ककी जब मैंने उसकी चूत चाटी थी तब मेरा लैंड इतने मूड में नहीं था मैंने अपना लंड निकला और उसकी गांड थूक से बहुत गीली हो चुकी थी मैंने अपना लंड रखा और ज़ोर का धक्का मारा मेरा लंड सुपाक से अंदर हो गया .

और रूबी आह मार डाला रे फाड़ दी मेरी गांड बहुत दर्द हो रहा है plz निकालो आह आह करने दर्द के मरे कराह रही थी लेकिन मैं कहा मैंने वाला था मुझे पता चल गया था की मेरा लौंडा सिर्फ गांड मरने के लिए बना है .

उसको चूत में कोई इंटरेस्ट नहीं है मैं भका भक गांड की चुदाई में जुट गया वो तड़प उठी मेरे हर वॉर पे वो तड़प उठती थी मैं नॉन स्टॉप गांड मरते चला गया पता नहीं कहा से मुझमे इतना जोश आ गया की मैंने उसकी गाड़ का कोई ख्याल नहीं .

किया सायद उसकी गांड से खून तक आने लगा था लेकिन मैं गियर बदलता रहा और उसकी गांड को अपने पानी से भर दिया और अपने लंड को उसकी की गांड में घुसाए हुई उसी पे लेट गया वह रो रही थी लेकिन मैंने अपना स्वाद पता कर लिया था .

की मुझे मज़ा सिर्फ गांड मरने में आता है उस दिन के बाद रूबी से मेरा ब्रेकउप हो गया लेकिन उसका भाई पहले भी मेरे टच में था और उसको पता भी था की रूबी मेरी gf है फिर वो एक दिन आता है और बोलता है की क्या चल रहा है तुम दोनों के बीच .

तो मैंने बोला कुछ नहीं तो उसके मुझे जायदा फाॅर्स न करते हुए नहीं पूछा और चला गया फिर मैं एक दिन रूबी से मिलने उसके घर गया घर जाकर मैंने बेल बजाई उसका भाई आया और उसने दरवाज़ा खोला मैंने पूछा रूबी दिखाई नहीं दे रही .

मैं और रूबी एक ही कॉलेज से थे इसलिए कोई इतना गलत नहीं समझता था तो उसने कहा की टूशन गयी है तुम तब तक टीवी देखो मैं सोफे पर बैठ गया और टीवी देखने लगा वो भी आकर मेरे साथ बैठ गया अब कुछ देर टीवी देखते देखते उसने कुछ अजीब हरकत की .

उसने अपना पैर मेरे लंड पे लगाया मेरे सरे रोंगटे खड़े हो गए इतना करेंट तो रूबी की चूत चाटने में भी नहीं लगा था अब वह धीरे धीरे मेरे लंड पे अपना पैर रगड़ रहा था मेरा लौड़ा साप की तरह फनफना उठा था और मैं कर रहा था की उठ के इसके मुँह में अपना लौड़ा डाल दू .

फिर मैंने सोचा की क्या पता उससे गलती से लग रहा हो मैंने फालतू मेंही इतना फील कर रहा हूँ खैर इस समय तक मेरी हालत बहुत खराब हो चुकी थी मुझे मुठ मारनी थी इसलिए मैंने उससे पूछा बाथरूम किधर है उसने इसारे में बताया मैं बाथरूम में घुस गया .

लेकिन दरवाज़ा बिलकुल भी बंद नहीं किया ज़ोर ज़ोर से मुठ मरने लगा और साथ में आवाज़े भी निकालने लगा उफ़ उफ़ ाः आह उफ़ की तभी जो मैंने देखा वो देख कर मनो मुझे मन मांगी मुराद मिल गयी हो रूबी का भाई पूरा नंगा अपना मोटा सा लंड लेके मेरी तरफ आ रहा था .

आते ही उसने मुझे पीछे से चिपका लिया उसका लोहे जैसा तना हुआ लंड मेरी नंगी गांड पपे टच हो रहा था मेरी और उसकी साँसों से पूरा बाथरूम गूंज रहा था सो सो उफ़ उफ़ हम दोनों हवस की चरम सीमा में इतने वो पीछे से लिपट कर मेरी मुठ मर रहा रहा पहली बार किसी मर्द से मुठ मरवाने का मज़ा सिर्फ एक GAY को पता हो सकता है .

मैं आह आह आह उफ़ और तेज़ और तेज़ की आवाज़े निकल रहा था फिर उसने अपना मोटा सा लंड मेरी गांड में पेल दिया दर्द तो बहुत हुआ मेरे मुँह से चीख निकल गयी मेरे मुँह से अक्क की आवाज़ निकली लेकिन मुठ मरता हुआ उसका हाँथ बहुत मज़ा दे रहा था .

अब वो पीछे से गांड की नॉन स्टॉप ठुकाई कर रहा था आगे मेरी मुठ मर रहा था मैं चरम सीमा पर था मेरे लंड ने एक ज़ोरदार पिचकारी मारी पच और मेरा लंड ठंढा पड़ गया लेकिन वो भी भी मेरी गांड की चुदाई में लगा था .

खैर कुछ टाइम बाद उसका भी पानी निकल गया और हम दोनों पुरे नंगे बाथरूम में पड़े थे कुछ देर बाद वो उठा और उसने अपना लंड मेरे मुँह में रख दिया मैं बड़े मज़े से उसे चूसने लगा और वो मेरे मुँह को चोदने लगा मेरे मुँह से एक अक्क एक अक्क ककक की आवाज़ आ रही थी .

और फिर उसने मेरे दोनों पैरो को उठा के सीधे अपना लंड मेरी गांड के छेंद पे लगाया और ज़ोर का झटका दिया मैंने बोला की मादरचोद रूबी का बदला ले रहा है क्या ज़रा आराम से कर तो उसने कहा की सेल तूने मेरी बहन की गांड मारी अब तो तेरी खैर नहीं और वो मेरी कासी हुई गांड पे हमले करने लगा .

और मेरी गांड का हलवा बना दिया दोस्तों समय की कमी है इसलिए ये कहानी यही पर समाप्त करता हूँ दोस्तों Gay sex stories in hindi का 2ND पार्ट मैं लिखूंगा की किस तरह हमारे नंगी चुदाई के खेल में शामिल हुई रूबी तो दूसरा पार्ट ज़रूर पढ़े .

गे सेक्स स्टोरी का दूसरा पार्ट पढ़ने के लिए क्लिक करे .

Here you will find all kinds of hindi sex stories like Hindi Sex Stories CHUDAI KI KAHANI INDIAN SEX STORY IN HINDI MAA KO MAA BANYA HOT SEX STORY GAY SEX STORIES IN HINDI .